Thu. May 26th, 2022


Woman Ditched to Work on Building Site : ग्लैमर और तामझाम की दुनिया को पसंद करने वाली महिलाएं अक्सर उन प्रोफेशंस से दूर रहती हैं, जहां उनकी स्किन के टैन होने और एपियरेंस के खराब होने का डर हो. हालांकि 38 साल की शार्लेट एडवर्ड्स (Charlotte Edwards) ने हिम्मत दिखाई और पुरुषों के डॉमिनेंस वाले कंस्ट्रक्शन बिजनेस (Woman Works in Construction Business) में कामयाबी हासिल की है.

शार्लेट एडवर्ड्स (Charlotte Edwards) का परिवार इमारतें खड़ी करने के इस बिजनेस में था, लेकिन वे इससे हमेशा ही दूर रहीं. जब उनके 68 साल के पिता डेनिस और 29 साल के भाई एंड्र्यू की साल 2019 में मौत हो गई, जिसके बाद शार्लेट ने खुद इस बिजनेस को संभालने का मन बनाया. हालांकि इसके लिए उन्होंने जो कुर्बानी दी, वो आसान नहीं थी.

मेकअप को कहा बाय, कड़ी धूप में मेहनत
इससे पहले कभी भी शार्लेट एडवर्ड्स (Charlotte Edwards) बिल्डिंग साइट पर नहीं गई थीं. उन्हें यहां काम करने के लिए खुद को काफी बदलना पड़ा. 2 बच्चों की मां शार्लेट इससे पहले स्टायलिश ड्रेसेज़, हाई हील्स के साथ-साथ हेयर एक्सटेंशन, नेल एक्सटेंशन, फेक आईलैशेज़ और मेकअप की शौकी थीं. उन्होंने इस बिजनेस में आने के बाद जब देखा कि यहां महिला-पुरुष को लेकर काफी भेद-भाव है, तो उन्होंने ये सब कुछ छोड़ दिया. वे बिल्डिंग साइट पर दिन-दिनभर कड़ी धूप में मौजूद रहती थीं. उन्होंने अपने लिए थर्मल कपड़े खरीदे और काम की निगरानी के लिए हर वक्त सुपरविज़न करने लगीं.

ये भी पढे़ं- 30 करोड़ का आलीशान घर महिला ने महज 2 हज़ार रुपये में हासिल कर लिया, आखिर कैसे ?

बच्चों को भी ले जाती थीं साथ
The Sun की रिपोर्ट के मुताबिक शार्लेट की बेटी 4 साल की और बेटा 7 साल का है. कोरोना महामारी के वक्त जब वे इस बिजनेस में आईं, तो वे मजबूरन दोनों बच्चों को भी साथ लेकर आती थीं. हालांकि ये उनके स्वास्थ्य के लिहाज से अच्छा नहीं था, लेकिन शार्लेट के पास दूसरा चारा नहीं था. आखिरकार शार्लेट की मेहनत रंग लाई और ओसवेस्ट्री बेस्ड उनकी कंपनी ने अपने पुराने ऑर्डर पूरे कर लिए और वो नए प्रोजेक्ट्स पर काम रही हैं. बिना किसी अनुभव के शार्लेट ने खुद के दम पर अपने फैमिली बिजनेस को संभाला, इसके लिए वो इंटरनेट से भी काफी कुछ सीखती थीं.

Tags: Interesting news, Viral news, Weird news

Leave a Reply

Your email address will not be published.