कोरोना मरीज को डॉक्टरों ने मरा हुआ समझकर भेज दिया मुर्दाघर, प्लास्टिक बैग के अंदर हुई हलचल तो डर गए लोग


कोरोना महामारी (Coronavirus Pandemic) अभी भी इस दुनिया से खत्म नहीं हुई है. दुनिया के कई देशों में कोरोना ने अपने पैर पसारे हुए हैं. ऐसे में डॉक्टर लोगों को कोरोना से खतरे से बचने की सख्त हिदायत दे रहे हैं. मगर इस बीच कोरोना से डर, आशंकाएं और गलतफहमियां बनी हुई हैं. जहां ये गलतफहमियां ज्यादातर आम लोगों के अंदर ही बनी हैं, वहीं ऐसी एक गलती के बारे में पता चला है जो डॉक्टरों से हुई है. ये गलती इतनी बड़ी है कि एक इंसान की जान (Living Covid patient put in deadbody bag) पर बन आई है.

डेली स्टार की रिपोर्ट के अनुसार चीन के शंघाई (Shanghai, China) में 1 मई को विचित्र घटना घटी. यहां एक शख्स कोरोना का मरीज (Corona postive patient considered dead in Shanghai) था और उसके इलाज के दौरान डॉक्टरों को लगा कि उसकी मौत हो गई है. शख्स को प्लास्टिक के बैग में डाला गया जिसमें मुर्दों को रखा जाता है और अंतिम संस्कार के लिए मुर्दाघर में भेज दिया गया. मगर मुर्दाघर में एक ऐसी घटना घटी जिसे देखकर हर कोई चौंक गया.

जिंदा व्यक्ति को मुर्दाघर भेजा
रिपोर्ट के अनुसार बुजुर्ग व्यक्ति मरा नहीं था, बल्कि जिंदा था और उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर के मुर्दाघर भेज दिया. मगर शख्स अचानक प्लास्टिक बैग में हिलने लगा तो मुर्दाघर के कर्मियों के होश उड़ गए. उन लोगों ने जैसे ही हिलते हुए देखा तो प्लास्टिक खोला और अंदर पाया कि शख्स की सांसें चल रही हैं. तुरंत ही उसे अस्पताल में शिफ्ट किया गया.

शंघाई में तेजी से फैल रहा है कोरोना
आपको बता दें कि ये घटना शंघाई के पूटुओ जिले में हुई है. अब प्रशासन से जांच के आदेश दिए हैं और पता लगाया जा रहा है कि आखिर डॉक्टरों से इतनी बड़ी चूक कैसे हो गई. आपको बता दें कि शंघाई में कोरोना की नई लहर तेजी से फैल रही है और शंघाई में, वुहान की तुलना में, ज्यादा तेजी से कोरोना फैल रहा है. यहां प्रशासन ने फिर से लॉकडाउन लगा दिया है. रिपोर्ट्स के अनुसार जिन घरों में कोविड मिल रहा है उनके चारों तरफ फेंस लगा दिए जा रहे हैं. साथ ही चायॉन्ग जिले में लोगों को हफ्ते में 3 बार टेस्ट किया जा रहा है.

Tags: Ajab Gajab news, Weird news

Leave a Comment