Fri. May 27th, 2022


Napping Time At Office : कई बार आपने लोगों को कहते सुना होगा कि काश दफ्तर में भी थोड़ी देर आराम करने का वक्त मिल जाता, तो कितना अच्छा होता ! अब हर जगह तो नहीं, लेकिन हमारे देश में ही बेंगलुरू की एक कंपनी अपने कर्मचारियों के इस सपने (Bengaluru startup is giving employees nap time) को पूरा कर रही है. Wakefit नाम की इस कंपनी ने ऑफिशियल मेल के ज़रिये सभी को बताया है कि कंपनी उन्हें दोपहर में आधे घंटे खास नैप (Company is giving employees 30 minute official nap time) यानि झपकी लेने का वक्त दे रही है.

Wakefit के सह संस्थापक चैतन्य रामालिंगेगोवड़ा (Chaitanya Ramalingegowda) ने कंपनी की ओर से एक घोषणा मेल के ज़रिये जारी की है. ई-मेल में साफ तौर पर लिखा गया है कि संस्थान के सभी कर्मचारियों को रोज़ाना दोपहर 2 से 2.30 बजे तक सोने का वक्त दिया जाएगा. इस दौरान सभी कर्मचारियों के कैलेंडर्स ब्लॉक कर दिए जाएंगे और सभी चैन की नींद ले सकेंगे. संस्थान की ओर से ये घोषणा ट्विटर पर भी पोस्ट की गई है, जिसके बाद लोग संस्थान की तारीफों के पुल बांध रहे हैं.

स्लीपिंग वेलनेस के लिए काम करता है Wakefit
Wakefit स्टार्ट अप खुद स्लीपिंग वेलनेस के सेक्टर में काम करता है और 6 साल में ये काफी कामयाब कंपनी रही है. उन्होंने अपनी घोषणा में कहा है कि वे हमेशा ही नींद को गंभीरता से लेते रहे हैं. ऐसे में अब वे ऑफिस में भी नैप टाइम की शुरुआत कर रहे हैं. चैतन्य ने NASA की स्टडी का हवाला देते हुए कहा है कि 26 मिनट की झपकी परफॉर्मेंस को 33 फीसदी तक बढ़ा सकती है. ऐसे में हम इस प्रैक्टिस को सामान्य बनाना चाहते हैं और अब से दफ्तर में 30 मिनट सोने के लिए दिए जाएंगे. इस दौरान कोई भी काम नहीं होगा.

ये भी पढ़ें- नौकरी के साथ दुल्हा-दुल्हन भी दिलवा रही है IT कंपनी, शादी करने पर बढ़ जाती है सैलरी !

शांत कमरा और बिस्तर भी मिलेगा
कंपनी के मेल में बताया गया है कि कंपनी इस प्रोजेक्ट पर काम कर रही है और जल्द ही कर्मचारियों को सोने के लिए शांत जगह और आरामदेह नैप पॉड बनाकर दिए जाएंगे, जहां उन्हें चैन की नींद आ सके. इस पोस्ट के बाद इंटरनेट पर लोगों ने रिएक्ट करते हुए कहा कि आप लोग भारतीय मार्केट में नया ट्रेंड चलाने जा रहे हैं. वैसे हम आपको बता दें कि जापान में लोगों को दफ्तर में झपकी के लिए वक्त देने का ट्रेंड पुराना है. यहां लोगों को नींद लेने के लिए न सिर्फ दफ्तर बल्कि कई पब्लिक प्लेसेज पर भी आपको जगह मिल जाएगी क्योंकि जापानी लोग शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को काफी तरज़ीह देते हैं.

Tags: Ajab Gajab news, Good news, Viral news

Leave a Reply

Your email address will not be published.